लखनऊ
यूपी में सत्ता वापसी का ख्वाब देख रही समाजवादी पार्टी ने साल 2022 में 350 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा किया है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि सपा अपने दम पर यूपी का चुनाव लड़ेगी और किसी भी बड़े दल चाहे वो बसपा हो या कांग्रेस किसी के साथ कोई गठंबधन नहीं करेगी। अखिलेश यादव ने कहा कि 'हालांकि जो छोटे लेकिन महत्वपूर्ण दल हैं, उनके साथ हमारा गठबंधन जारी रहेगा। उन्होंने रालोद का उदाहरण देते हुए कहा कि वो पश्चिमी उत्तर प्रदेश की नामी पार्टी है, वो दल हमारे साथ ही रहेगा।' 

जसवंतनगर सीट पर सपा नहीं खड़ा करेगी प्रत्याशी हालांकि जब उनसे पूछा गया कि क्या वो अपने चाचा शिवपाल यादव के साथ गठबंधन करेंगे तो उस पर अखिलेश यादव ने कहा कि 'उनका (शिवपाल यादव) एक दल है, उनकी सीट जसवंतनगर पर सपा अपना प्रत्याशी नहीं खड़ा करेगी और अगर भविष्य में संभावना बनेगी कि किसी और सीट पर भी उनके दल के नेता जीत सकते हैं तो राजनीतिक गतिविधियों को देखते हुए समाजवादी पार्टी फैसला लेगी। उन्होंने साफ किया कि सपा का गठबंधन अभी RLD, महान दल, संजय चौहान की जनवादी पार्टी से है और भी कई छोटे दल हैं, वो भी हमारे संपर्क में हैं। जब अखिलेश यादव से पूछा गया कि क्या उनके और उनके चाचा के बीच की दूरियां कम हो रही हैं, तो इस पर अखिलेश ने कहा कि हम सभी दलों से दूरियां कम करने की कोशिश कर रहे हैं। 

शिवपाल सिंह ने कही ये बात मालूम हो कि हाल ही में हुए प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के अध्यक्ष और मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव ने संकेत दिए थे कि उनके और अखिलेश के बीच की खाई कुछ कम हुई है क्योंकि उन्होंने कहा था कि 'साल 2022 के चुनाव में सम्मानजनक सीटें मिलने पर समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन किया जाएगा। इसके अलावा शिवपाल सिंह ने अन्य पार्टियों के साथ भी अलायंस करने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि हम 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे। हमारा संगठन 75 जिलों में पूरा तैयार है।' 

Source : Agency