ग्वालियर
गुरुवार की सुबह साढ़े दस बजे पूरा शहर तेज धमाके से गूंज उठा। इस धमाके के कारण लाेगाें के मकानाें की दीवारे तक हिल गईं, जिससे लाेग काफी घबरा गए। लाेगाें काे लगा कि शायद भूकंप आया है, इसलिए कई लाेग घराें से बाहर भागकर खुले मैदान में आकर खड़े हाे गए। हालांकि इस धमाके में कहीं काेई नुकसान हाेने की सूचना नहीं है। वहीं प्रशासनिक सूत्राें का कहना है कि जब मिराज उड़ान भरता है ताे सुपर सॉनिक साउंड हाेता है, जिसके कारण धमाका सुनाई देता है।

गुरुवार की सुबह लाेग अपने रूटीन काम में जुटे हुए थे। इसी दाैरान सुबह साढ़े दस बजे एक तेज धमाका हुआ। जिसके कारण लाेगाें के घराें के खिड़की दरवाजे ही नहीं दीवारें तक हिल गईं। लाेगाें काे लगा कि शायद भूकंप आ गया है। लाेग बाहर निकलकर एक दूसरे से पूछ रहे थे कि क्या उन्हाेंने भी जमीन में कंपन महसूस किया है। आनंद नगर, शिंदे की छावनी, नया बाजार, विनय नगर, लाेहिया बाजार सहित कई इलाकाें में यह तेज धमाका सुनाई दिया। आवाज सुनकर लाेग घराें के बाहर निकल आए। हालांकि जब लाेगाें काे लगा कि सब ठीक है ताे लाेगाें ने राहत की सांस ली।

ग्वालियर में एयरफाेर्स का बेस कैंप है। एेसे में यहां से अक्सर मिराज उड़ान भरते हैं। जिसके कारण सुपर सॉनिक साउंड हाेता है। इसी वजह से तेज धमाका हाेता है। हालांकि इस प्रकार का धमाका पहली बार नहीं हुआ है। इसके पहले भी जब मिराज अभ्यास के लिए उड़ान भरते हैं ताे इस प्रकार का धमाका सुनाई दिया है।

Source : Agency