जबलपुर
 गोहलपुर थाना क्षेत्र के समता कॉलोनी में रहने वाले एक व्यक्ति ने लाकडाउन में प्रिंटर से नकली नोट छापने का काम शुरू कर दिया। आरोपित पर पूर्व में भी एक दर्जन से ज्यादा अपराध है। वहीं उसने लाखों के नकली नोट छापकर उसे बाजार में चला दिया। मंगलवार को हनुमानताल सीएसपी अखिलेश गौर को सूचना मिली, जिसके बाद आरोपित के घर में दबिश देकर उसे गिरफ्तार किया। जिसके घर से लगभग चार लाख रुपये जब्त किए गए है। आरोपित से पूछताछ की जा रही है। वहीं उसने नोट कहां और कैसे चलाएं इसके बारे में भी पतासाजी की जा रही है।

हनुमानताल सीएसपी अखिलेश गौर ने बताया कि मंगलवार सुबह सूचना मिली कि गोहलपुर स्थित समता कॉलोनी में रहने वाला नरेश आसवानी 50 अपने घर में नकली नोट छापकर उसके बाजार में चला रहा है। सूचना पर वह हनुमानताल और गोहलपुर के स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे और घेराबंदी कर दबिश दी। दबिश के दौरान आरोपित नोट छापते हुए मिला। जिसे गिरफ्तार कर उसके पास से नोट जब्त किए गए।

50 रुपए के नकली नोट कोई ग्राहक दे गया था, उसे देखकर आया आइडिया
नरेश आसवानी ने बताया कुछ समय पहले उसकी माेबाइल की दुकान पर 50 रुपए की एक नकली नोट किसी ग्राहक ने दे दी थी। फिर इसी नोट को देखकर उसे भी आइडिया आया। उसने एक कलर प्रिंटर और ग्रीन रिबन व अच्छी क्वालिटी के कागज खरीद कर लाया। इसके बाद वह नकली नोट छापने लगा। पुलिस को उसने दो महीने से नकली नोट छापने की बात बताई है, लेकिन बताया जा रहा है कि यह काम वह काफी दिनों से कर रहा है।


टीम की पूछताछ में पता चला कि नरेश आसवानी की रसल चौक में मोबाइल की दुकान है। वहीं मुकादमगंज में विक्की नजरल स्टोर नाम से दुकान है। इसमें दो ऊपर तो नीचे शाॅप है। समता कॉलाेनी में भी उसने घर के पास एक गोदाम भी ले रखा है। आरोपी इन दुकानों में आने वाले ग्राहकों को एक-दो नकली नोट देता था। इसी तरह गड्‌डी में वह दो-चार नोट डाल देता था। पूरे लॉकडाउन में उसने घूम-घूम कर सवा लाख रुपए बाजार में चला डाले।

Source : Agency