इंदौर
 प्रशासन द्वारा सोमवार से अहिल्या बाई होलकर (चोइथराम) थोक मंडी खोलने के आदेश तो दे दिए गए थे लेकिन सोमवार सुबह मंडी में व्यापार शुरू नहीं हो सका। रविवार रात आदेश जारी कर प्रशासन ने चोइथराम मंडी में प्याज की नीलामी का काम शुरू करने की अनुमति दी है। देर रात को आदेश जारी हुए इसलिए व्यापारी किसानों तक संदेश नहीं भेज सके। सोमवार को व्यापारियों ने बैठक बुलाकर मंडी चलाने के नियम तय किए और कल मंगलवार से व्यापार शुरू करने का निर्णय लिया।

बीते करीब दो महीनेे से थोक मंडी में कामकाज बंद था। नतीजा था कि बारिश में किसानों के पास रखा प्याज खराब होने लगा था। ऐन सीजन में मंडी का व्यापार बंद होनेे से हर दिन करीब 10 करोड़ रुपये के व्यापार का नुकसान भी हो रहा था। महाराष्ट्र व अन्य प्रदेेशों की मंडिया खुल गई थी ऐसे मेें प्रदेश का व्यापार भी अन्य प्रदेशों में शिफ्ट हो रहा था। इन सब मुद्दों पर किसानों ने भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखा था इसके बाद प्रशासन ने प्याज की नीलामी शुरू करने की अनुमति जारी कर दी थी।

Source : Agency