नई दिल्ली 
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कई अस्पताल अब भी ऑक्सीजन संकट से जूझ रहे हैं। अस्पतालों ने अधिकारियों से ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर गुहार लगाई और कहा कि ऑक्सीजन की किल्लत के चलते उनके मरीजों की जान दांव पर लगी हुई है। इसी बीच, बुधवार तड़के सुबह ऑक्सीजन के टैंकर लेकर ऑक्सीजन एक्सप्रेस दिल्ली के कैंट रेलवे स्टेशन पहुंची। अब इन टैंकरों को दिल्ली सरकार के अधिकारियों के सुपर्द्व किया जाएगा। दिल्ली प्रशासन के अधिकारी आगे जहां जरूरत होगी वहां इन टैंकर को पहुंचाने का काम करेंगे।

आपको बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन आठ दिन में कुल 631.53 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर आई है। उत्तर रेलवे अधिकारियों के मुताबिक 27 अप्रैल से 4 मई तक आठ अलग-अलग ट्रेन में ऑक्सीजन टैंकर आए। इन टैंकरों को दिल्ली कैंट, फरीदाबाद, तुगलकाबाद, ओखला व गुरुग्राम आदि जगहों पर उतारा गया, जिसके बाद जिला प्रशासन ने इन्हें जरूरत के मुताबिक अलग-अलग अस्पतालों में पहुंचाने का काम किया। आने वाले समय में और ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन दिल्ली-एनसीआर के लोगों के लिए ऑक्सीजन लेकर आएंगी।

इसके अलावा दिल्ली हवाईअड्डे पर विदेशों से चिकित्सा उपकरण आने का सिलसिला जारी रहा। मंगलवार को यहां कुवैत, अमेरिका से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर आदि अन्य चिकित्सा उपकरण पहुंचे। बता दें कि कुछ दिनों में 25 से अधिक उड़ानें यहां 300 टन से अधिक कोविड-19 राहत सामग्री लेकर पहुंच चुकी हैं। यह उड़ानें अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, उज्बेकिस्तान, थाइलैंड, जर्मनी, कतर, हांगकांग और चीन आदि अलग-अलग देशों से आई थी। दिल्ली कस्टम विभाग के मुताबिक इन उड़ानें को पहुंचने के बाद तय प्रक्रिया पूरी कर कम से कम समय में क्लीयरेंस दी गई।

Source : Agency