ग्वालियर
ग्वालियर हाईवे पर उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक लग्जरी बस में ड्राइवर सहित 6 पैसेंजर कोरोना पॉजिटिव निकले. ये सुनते ही आस-पास बैठे लोगों को घबराहट, सिर दर्द, चक्कर और बेचैनी होने लगी. पॉजिटिव मिले लोगों को आनन-फानन में होम आईसोलेट किया गया, जबकि बाकी पैसेंजर्स को चेकअप घर भेज दिया गया.

दरअसल, गुरुवार को ग्वालियर हाईवे पर कोविड मोबाइल यूनिट तैनात थी. उसने देखा कि एक लग्जरी बस शिवपुरी से आ रही है. उसे रोककर जांच की गई और सभी 51 लोगों का रैपिड एंटीजन टेस्ट किया गया. इस दौरान टेस्ट में बस ड्राइवर सहित 5 पैसेंजर कोरोना पॉजिटिव निकले. इस दौरान किसी में भी कोरोना के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे थे. सभी को होम आइसोलेशन में भेज दिया गया.

कोरोना जांच नोडल अधिकारी डॉ.अमित रघुवंशी ने बताया कि शहर में कोरोना की रफ्तार बड़ी तेज है. इस वजह से शहर के बॉर्डर पर लोगों की जांच के लिए मोबाइल यूनिट टीम को भेजा गया था. इस दौरान विक्की फैक्ट्री स्थित चौराहे पर जांच टीम ने शिवपुरी से आ रही बस को रोका और पैसेंजर्स की जांच की.

टेस्ट में हजीरा का रहने वाला बस ड्राइवर पॉजिटिव निकला. बाद में पता लगा कि उसने क्लीनर के न होने पर कुछ पैसेंजर्स के टिकट खुद ही बनाए थे. इसलिए सभी पैसेंजर्स का टेस्ट किया गया. इसमें 5 और पॉजिटिव मिले. टीम ने इसकी सूचना CMHO को दी.

मध्य प्रदेश में बृहस्पतिवार को कोविड-19 संक्रमण से 53 और लोगों की मौत हो गई तथा 10,166 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई. नए रोगियों एवं इससे मरने वालों का यह एक दिन का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘ बृहस्पतिवार को प्रदेश में 53 कोविड-19 मरीजों की मौत हुई है. इसी के साथ इस वायरस से राज्य में अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 4365 हो गई है.’’ उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में 10,166 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 3,73,518 तक पहुंच गयी.

Source : Agency