पन्ना
प्रदेश के 28 जिलों में कोरोना कर्फ्यू की लागू करने के बाद सतना में जिला क्राइसेस कमेटी की बैठक में इस पर आज कोई फैसला नहीं हो सका। इस मामले में अब 17 अप्रेल को फैसला होने की उम्मीद है। वहीं पन्ना में आज शाम तक के लिए लागू कोरोना कर्फ्यू की अवधि 22 अप्रेल तक के लिए बढ़ा दी गई है।

कोरोना संक्रमण रोकने के लिए राज्य सरकार ने क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटीको जिले में सख्ती भरे फैसले लेने के अधिकार दिए हैं। इसी के चलते बड़े शहरों के बाद अब तक 28 जिलों में 22 से 26 अप्रेल तक कोरोना कर्फ्यू लागू करने के आदेश कलेक्टर जारी कर चुके हैं। आज सतना जिला क्राइसेस कमेटी की बैठक थी लेकिन मंत्री रामखेलावन पटेल की मौजूदगी न होने के कारण यहां लगाए जाने वाले कोरोना कर्फ्यू पर अंतिम निर्णय नहीं हो सका जबकि यहां कल 211 कोरोना पाजिटिव केस आने के बाद कोरोना कर्फ्यू लगाया जाना तय माना जा रहा था।

मंत्री 17 अप्रेल को फिर होने वाली बैठक में रहेंगे, तभी इस पर फैसला होने की संभावना है। इसी तरह सीधी जिले में भी अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। उधर पन्ना जिले से मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि यहां कोरोना कर्फ्यू नगरीय क्षेत्रों में 22 अप्रेल तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस कर्फ्यू की अवधि आज शाम को खत्म हो रही थी। उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं को बहाल रखा जाएगा।

Source : Agency