वॉशिंगटन
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा है कि ईरान अंतरराष्‍ट्रीय आतंकवादी संगठन अलकायदा का नया गढ़ बन गया है। माइक पोम्पियो ने कहा कि अलकायदा ने तेहरान के अंदर अपने नेतृत्‍व को केंद्रीकृत कर लिया है। यही नहीं अलकायदा सरगना अयमान अल जवाहिरी के कमांडर इस समय तेहरान में छिपे हुए हैं। अमेरिकी विदेश मंत्री के इस बयान का ईरान ने जोरदार तरीके से खंडन किया है।

पोम्पियो ने कहा कि वर्ष 2015 में जब ओबामा प्रशासन जर्मनी, ब्रिटेन और फ्रांस के साथ मिलकर परमाणु डील को अंतिम रूप दे रहा था, ठीक उसी समय ईरान और अलकायदा के बीच संबंधों में सुधार होना शुरू हुआ। इस परमाणु डील के बाद ईरान पर से प्रतिबंध हटा ल‍िए गए थे। हालांकि अमेरिकी विदेश मंत्री ने ईरान को लेकर दिए बयान के समर्थन में कोई सबूत नहीं दिया।

'मैं कहूंगा कि ईरान वास्‍तव में एक नया अफगानिस्‍तान है'
शिया मुस्लिमों का देश ईरान सुन्नियों के प्रभाव वाले अलकायदा को लंबे समय से इस क्षेत्र के लिए शत्रु मानता रहा है। हालांकि ऐसी कई खबरें आई हैं जिसमें कहा गया है कि अलकायदा ईरान के क्षेत्र का इस्‍तेमाल कर रहा है। पोम्पियो ने कहा, 'अलकायदा का एक नया ठिकाना है। यह इस्‍लामिक गणराज्‍य ईरान है।' उन्‍होंने कहा, 'मैं कहूंगा कि ईरान वास्‍तव में एक नया अफगानिस्‍तान है जो अलकायदा का भौगोलिक केंद्र रहा है लेकिन ईरान वस्‍तुत: इससे ज्‍यादा खराब है।'

Source : Agency