दमोह
पथरिया विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह के खिलाफ हटा न्यायालय ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया है और न्यायालय में उपस्थित होने का निर्देश दिया है। गौरतलब हो हटा के कांग्रेसी नेता देवेंद्र चौरसिया और उनके पुत्र सोमेश चौरसिया पर मार्च 2019 में हमला किया गया था, जिसमे देवेंद्र की जबलपुर में मौत हो गई थी। इसका आरोप पथरिया विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह, देवर शैलेंद्र उर्फ चंदू, भाई लोकेश व अन्य लोगों पर था पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया था जो अभी जेल में है, लेकिन पति गोविंद सिंह फरार था जिसका नाम बाद में एफआईआर से हटा दिया गया था और विवेचना में लिया गया था।

15 मार्च 2019 को कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की चुनावी रंजिश को लेकर हत्या कर दी गई थी। मामले में पथरिया से बसपा विधायक रामबाई के देवर, भतीजा मुख्य आरोपी बनाए गए थे। मामले को लेकर पीड़ित पक्ष के लोग सुप्रीम कोर्ट तक गए। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने मामले की जल्द सुनवाई कर फैसला देने के आदेश हटा न्यायालय को दिए। मामले में शनिवार को कोर्ट में पीड़ित पक्ष के लोगों के बयान हुए। इससे पहले पीड़ित पक्ष ने कोर्ट में गोविंद सिंह को आरोपी बनाए जाने को लेकर आवेदन भी दिया था। पीड़ित पक्ष का कहना था कि वारदात के समय गोविंद सिंह भी मौके पर मौजूद थे। बयानों के आधार पर कोर्ट ने गोविंद सिंह को भी मामले में आरोपी बनाया गया है।

शनिवार को मामले के प्रत्यक्षदर्शी सोमेश चौरसिया की गवाही होनी थी, लेकिन गोविंद सिंह को आरोपी बनाए जाने से गवाही को अगली पेशी तक के लिए टाल दिया गया है।

 

Source : Agency