कार्यक्षेत्र और व्यापार में बढ़ते काम के दबाव से काम में नीरसता आने लगती है। ऐसे में अपने आसपास सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ाना जरूरी हो जाता है। वास्तु में कुछ आसान से वास्तु उपाय बताए गए हैं, जिनसे नकारात्मक ऊर्जा को दूर कर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ाया जा सकता है। आइए जानते हैं इन वास्तु उपाय के बारे में।

घर या प्रतिष्ठान में जितनी रोशनी होगी घर का माहौल उतना सकारात्मक होगा। प्रतिदिन कुछ समय स्वच्छ हवा और सूरज की रोशनी में व्यतीत करें। घर या प्रतिष्ठान में रोजाना सुबह और शाम धूप जलाएं। भगवान की पूजा करते वक्‍त कुछ देर के लिए घंटी जरूर बजाएं। शंख की ध्‍वनि नकारात्‍मक ऊर्जा दूर करती है। माना जाता है कि घर में शंख रखने मात्र से आर्थिक परेशानियां दूर होने लगती हैं। घर के किसी कोने में अंधेरा रहता है तो वहां हर हफ्ते नियमित रूप से गंगाजल छिड़कें। सूर्य के प्रकाश में कटोरी में गंगाजल लेकर रखें और कुछ देर बाद इसका पूरे घर में छिड़काव करें। घर में कर्पूर के टुकड़े रखने से मन शांत होता है।

अपने बेड के नीचे कबाड़ की चीजें न रखें। कमरे के अंदर गमले में पौधे न रखें। भोजन करने से पहले देवी-देवताओं को भोग लगाना चाहिए। सूर्यास्त के बाद स्त्रियों का कंघा नहीं करना चाहिए। घर के शौचालय का दरवाजा हमेशा बंद रखें। घर या प्रतिष्ठान में लगे पेड़-पौधे अगर सूख जाएं तो उन्हें तुरंत हटा दें। घर में श्री यंत्र रखना शुभ माना जाता है। घर या ऑफिस में लॉफिंग बुद्धा रखना शुभ माना जाता है। सुबह और शाम घर में सुगंधित अगरबत्ती या धूप जलाएं। घर के बाहर लगी नेमप्लेट हमेशा साफ रखें।

Source : Agency