पेरिस
अर्जेंटीना की नादिया पोदोरोस्का मंगलवार को यहां तीसरी वरीयता प्राप्त इलेना स्वितोलिना को हराकर ओपन युग में फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली क्वालीफायर बन गई। रोलां गैरां में पहुंचने से पहले कभी मुख्य ड्रॉ का मैच नहीं जीत पाने वाली पोदोरोस्का ने कोर्ट फिलिप चैटरियर पर खेले गए मैच में 6-2, 6-4 से जीत दर्ज की। इस तरह से उन्होंने स्वितोलिना को पिछले चार ग्रैंडस्लैम में तीसरे सेमीफाइनल में पहुंचने से रोक दिया।

पोदोरोस्का ने मैच के बाद कहा, ''मैच के बाद बात करना मेरे लिए थोड़ा मुश्किल है। मेरी अंग्रेजी बहुत अच्छी नहीं है। समर्थन के लिए सभी का आभार। मैं बहुत खुश हूं।" उक्रेन की स्वितोलिना दूसरे सेट में 4-5 से पीछे थी तब उन्होंने दो मैच प्वॉइंट बचाए, लेकिन पोदोरोस्का ने तीसरे मैच प्वॉइंट पर फोरहैंड विनर जमाया और अपना रैकेट हवा में उछालकर खुशी में झूम उठी।

सेमीफाइनल और भी यादगार बनने वाला है क्योंकि वहां उनका मुकाबला एक अन्य क्वालीफायर इटली की मार्टिना ट्रेविसान से हो सकता है। मार्टिना ने भी इससे पहले कभी टूर्नामेंट में मुख्य ड्रॉ का मैच नहीं जीता था। उन्हें हालांकि इससे पहले 19 वर्षीय इगा स्वियातेक की चुनौती समाप्त करनी होगी।

इससे पहले मंगलवार को अमेरिका की डेनियली कोलिन्स ने ट्यूनीशिया की 30वीं वरीयता प्राप्त ओंस जाबेर को 6-4, 4-6, 6-4 से हराकर पहली बार फ्रेंच ओपन के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। उनका अगला मुकाबला ऑस्ट्रेलियाई ओपन चैंपियन और चौथी वरीयता प्राप्त हमवतन सोफिया केनिन से होगा।

 

Source : Agency