भोपाल
कोविड-19 महामारी के मद्देनजर मध्य प्रदेश में बगैर मास्क लगाए घर के बाहर निकलने वाले व्यक्ति का 100 रूपये का चालान काटा जाएगा और जुर्माना वसूली के बाद उसे मुफ्त में दो मास्क भी दिए जाएंगे।

मध्य प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने अपने निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंंसग के माध्यम से 'एक मास्क- अनेक जिंदगी' अभियान का शुभारंभ करते हुए कहा, ‘‘बगैर मास्क लगाए घर के बाहर निकलने पर नियमानुसार 100 रूपये का चालान तो होगा ही, लेकिन इसके साथ ही दो मास्क भी नि:शुल्क दिए जाएंगे।’’

उन्होंने हरी झंडी दिखाकर सागर सहित अनेक नगरीय निकायों के प्रचार रथों को रवाना किया। सिंह ने कहा, ‘‘मैं कोरोना वायरस संक्रमित कई लोगों के संपर्क में आने के बाद भी सिर्फ मास्क और दस्ताने के कारण ही संक्रमण से बचा रहा।’’

उन्होंने बताया , ‘‘ मैं दो बार कोरोना वायरस की जांच करा चुका हूं।संक्रमण बढ़ रहा है लेकिन लोग लापरवाह हो रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि मास्क कोरोना वायरस से बचने का सबसे सरल और सस्ता उपाय है।

सिंह ने कहा कि दानदाताओं और स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से सभी निकायों में मास्क बैंक स्थापित किए जाएंगे। यहां पर लोग मास्क दान कर सकेंगे और यहीं से अशासकीय संगठन और नागरिक मास्क प्राप्त कर सकेंगे। प्रमुख चौराहों पर भी मास्क दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में संक्रमण अधिक है, अत: नगरीय निकायों की भूमिका महत्वपूर्ण है। उन्होंने भोपाल, इंदौर, सागर सहित अनेक निकायों में निकाली गई जागरूकता वाहन रैली की सराहना की।

सिंह  ने कहा कि नगरीय निकायों के सभी वार्ड में 21 स्वयंसेवकों की समिति बनाई जाएगी। समिति के सदस्य घर-घर जाकर नागरिकों को पंपलेट वितरित करने के साथ ही गर्म पानी पीने, ठंडी चीजों का उपयोग नहीं करने और घर से बाहर निकलने पर मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंंिसग का पालन करने की बात बतायेंगे।

 

Source : Agency