नोएडा
दिल्ली के राजेंद्र नगर से आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आपत्तिजनक ट्वीट करना महंगा पड़ गया। नोएडा पुलिस ने उनके खिलाफ आईपीसी और आईटी ऐक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। राघव चड्डा ने शनिवार को ट्वीट कर अफवाह उड़ाई थी कि उत्तर प्रदेश की तरफ जाने वाले लोगों को पुलिस डंडा मारकर खदेड़ रही है।

राघव चड्ढा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आरोप लगाए कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री दिल्ली से पलायन करके यूपी जा रहे लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पिटवा रहे हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'योगी जी बोल रहे हैं कि तुम लोग (मजदूर) दिल्ली क्यों गए थे? अब तुम लोगों को कभी दिल्ली नहीं जाने दिया जाएगा।' हालांकि चौतरफा घिरने के बाद उन्होंने ट्वीट को डिलीट कर लिया।

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने दी थी तहरीर
सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने राघव चड्ढा के खिलाफ नोएडा पुलिस को तहरीर दी थी। प्रशांत ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया, 'राघव चड्ढा के ट्वीट से प्रदेश में ऐसे समय कानून-व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है, जब पूरा देश कोरोना वायरस जैसी महामारी से जूझ रहा है।' प्रशांत की तहरीर पर नोएडा पुलिस ने राघव चड्ढा के खिलाफ आईपीसी 500, 505 (2) और आईटी ऐक्ट की धारा 66 के तहत केस दर्ज किया गया है।

सरकार ने किए तमाम इंतजाम
सरकार ने पैदल अपने घरों को जाते हजारों लोगों को देखा तो उनके लिए तमाम इंतजाम भी किए हैं। करीब 1000 यूपी रोडवेज की बसें, 2000 तक प्राइवेट बसें, ट्रक, ट्रॉली, ट्रैक्टर सब कुछ लगा दिए गए हैं। दिल्ली सरकार ने भी हापुड़ तक के लिए 100 डीटीसी बसें लगाई हुई हैं, लेकिन इन सब से भी स्थिति सुधरती है या नहीं यह देखना होगा।

Source : Agency