बेतवा नदी पर 25 करोड़ लागत से निर्मित ओरछा-टीकमगढ़ पुल का लोकार्पण किया

पवित्र नगरी ओरछा को अयोध्या से जोड़ने की कार्ययोजना बना रहे है: केन्द्रीय मंत्री गडकरी

ओरछा

केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मुख्य आतिथ्य में पवित्र नगरी ओरछा में सोमवार को 6 हजार 800 करोड़ रुपये की लागत से 550 किमी लम्बी 18 विभिन्न सड़क परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई तो वही 25 करोड़ रुपये की लागत से बेतवा नदी पर निर्मित उच्च स्तरीय 645 मीटर लम्बाई के आधुनिक पुल का लोकार्पण संपन्न हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री खाद्य प्रसंस्करण मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार, म.प्र. के लोकनिर्माण मंत्री गोपाल भार्गव एवं लोकनिर्माण राज्यमंत्री सुरेश धाकड़, खजुराहो सांसद व्ही.डी. शर्मा, सागर सांसद राजबहादुर सिंह, सांसद सतना गणेश सिंह, झांसी सांसद अनुराग शर्मा, विधायकगण शिशुपाल सिंह, अनिल जैन, हरिशंकर खटीक, राकेश गिरि गोस्वामी, प्रशासन के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधिगण मंचासीन उपस्थित रहे।      

   
केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि बुन्देलखण्ड की धरती विशेषकर ओरछा में रामलला सरकार की भूमि पर आमलोगों के आवागमन से जुड़े बुनियादी कार्य को करने का सौभाग्य मिला है। उन्होंने कहा कि जैसे अयोध्या को जनकपुर से जोड़ा जा रहा है, वैसे ही पवित्र नगरी ओरछा को भी अयोध्या से जोड़ा जाएगा। इसकी कार्ययोजना बना रहे है।


उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अपील करते हुये कहा कि जैसे अयोध्या में 84 कोसी परिक्रमा पद-पथ का निर्माण किया जा रहा है, उसी तर्ज पर ओरछा एवं आसपास के क्षेत्रों को जोड़ते हुये श्रीराम पद-पथ का निर्माण करें। जिसे श्रीराम जी के जीवनवृतान्त से जुड़ी बातों की कार्ययोजना का समावेश हो।  जैसे अयोध्या का वर्णन पुराणों में मिलता है उसी तर्ज पर श्रीरामजी से बातों से जुड़ी कार्ययोजना एवं वॉलपेंटिंग आदि से जुड़ी बातों को जोड़कर कार्ययोजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि पीताम्बरा दतिया-झांसी-ओरछा सर्किट के निर्माण हेतु रोडमेप तैयार करें।
केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री ने कहा कि ओरछा के बस स्टैण्ड को आधुनिक सौन्दर्यीकरण युक्त और टूरिज्म की दृष्टि से विकसित करने के लिये प्रस्ताव दें।


उन्होंने कहा कि म.प्र. के बुन्देलखण्ड की अधोसंरचना को वर्ष 2024 तक अमेरिका के इंफ्रास्ट्रक्चर बराबर बनाया जाएंगा। गडकरी ने राज्य सरकार के लगभग एक हजार करोड़ रुपये लागत के सड़कों एवं पुलियाओं के निर्माण के प्रस्ताव को स्वीकृत प्रदान की। उन्होंने कहा कि फोरलेन मार्ग के निर्माण होने पर भोपाल से कानपुर तक का सफर केवल 7-8 घण्टे में पूरा किया जा सकेगा।

गडकरी ने 18 सड़क परियोजनाओं की आधारशिला रखी

6 हजार 800 करोड़ की लागत से 550 किमी लम्बी राष्ट्रीय राजमार्ग सड़कों का निर्माण होगा

केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने मोहारी से सतई घाट फोरलेन चौड़ीकरण, सतई घाट से चौका खण्ड के फोरलेन चौड़ीकरण, सागर लिंकरोड (बड़खेड़ी से गढ़पहरा) फोरलेन ग्रीनफील्ड वायपास, चौका म.प्र.-यूपी सीमा खंड के चार लाइन चौड़ीकरण, दमोह से शाहगढ़ दो लेन, शाहगढ़ से टीकमगढ़ पेब्ड सोल्डर के साथ दो लेन, टीकमगढ़ से ओरछा पेब्ड सोल्डर के साथ दो लेन, एनएच-44 बनगांय खास से एनएच-39 ओरछा तिगेला झांसी एवं वायपास फोरलेन कनेक्टिविटी सड़क निर्माण, कैथी पढ़रिया कलां वायपास, पटना तमोली वायपास, जस्सो वायपास, नागौद वायपास पेब्ड सोल्डर के साथ दो लेन मार्ग का निर्माण, पवई के चंदिया घाट तक सोल्डर के साथ दो लेन वायपास का निर्माण, पेब्ड सोल्डर के साथ दो लेन हरपालपुर वायपास का निर्माण, पन्ना-पहाड़ी खेड़ा सड़क मार्ग का उन्नयन कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग से सकरिया-ककरहटी-गुनौन-डिगौरा से एनएच-943 तक उन्नयन कार्य, छतरपुर सिटी से आकाशवाणी तिराहा से महोबा रोड तक फ्लाईओवर का निर्माण, गढ़ाकोटा में सागर-दमोह मार्ग पर फ्लाईओवर का निर्माण, सागर सिटी में सिविल लाइन से मकरोनियां तक फ्लाईओवर और मदीयादो रजपुरा रोड के निर्माण कार्य की आधारशिला रखी।

भगवान श्रीराम हमारे रोम-रोम और अस्तित्व में होकर भारत की पहचान है: मुख्यमंत्री
 
मुख्यमंत्री चौहान ने राजाराम की नगरी ओरछा में कहा कि राम हमारे रोम-रोम में हैं। हमारी सांसों में बसे हैं। राम हमारा अस्तित्व हैं। भारत की पहचान हैं। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम और तुलसीदास बच्चों की पुस्तकों में पढ़ाये जायेंगे। उन्होंने गड़करी की प्रशंसा करते हुये कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी राष्ट्रीय राजमार्गों के जरिये भारत को जोड़ने का कार्य करते हुये लोगों की यात्राओं को न सिर्फ सुरक्षित अपितु सुविधाजनक बना रहे हैं और जरूरत के अनुसार फ्लाईओवर का निर्माण भी कर रहे हैं। इतना ही नहीं गडकरी जी उज्जैन में महाकाल बाबा के दर्शन करने जाने के लिये रेलवे स्टेशन से रोपवे का निर्माण करवाकर श्रद्धालुओं की यात्राओं को सुगम बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार के आव्हान पर गडकरी अब तारामाई के दर्शन के लिये भी रोपवे का निर्माण करायेंगे।  
मुख्यमंत्री ने कहा कि अकेले बुन्देलखंड में 40 हजार करोड़ की सड़कें बन रही हैं। उन्होंने कहा कि भोपाल से कानपुर, झांसी से टीकमगढ़, टीकमगढ़ से दमोह की उच्च क्वालिटी की सड़कें बनायी जायेंगी, जिससे आवागमन में सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि पहले सड़कों की हालात बहुत खराब थी, सड़कों पर जगह-जगह गड्डे थे। लेकिन जब से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र में सरकार बनी है, तब से अब तक भारत को जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। इसी का परिणाम है कि आज झांसी से छतरपुर होते हुये खजुराहो जाने का सुगम एवं सुलभ हो गया है।

निवाड़ी में शीघ्र ही घरों में नलों से पेयजल मिलेगा

उन्होंने कहा कि अब निवाड़ी जिले की माताओं तथा बहनों को पेयजल के लिये हैडपंपों तक नहीं जाना पड़ेगा। निवाड़ी जिले में आगामी महीनोेें में घर-घर टोंटी के जरिये पेयजल उपलब्ध करा दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र तथा राज्य सरकार मिलकर बुंदेलखंड के विकास के लिये कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि 44 हजार करोड़ रूपये खर्च करके केन-बेतवा लिंक परियोजना बनाई जा रही है, जिससे सिंचाई होगी और बुंदेलखंड अनाज के उत्पादन में पंजाब, हरियाणा को पीछे छोड़ देगा। कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन एवं दीपप्रज्जवल से किया गया। इसके पूर्व सड़क परियोजनाओं की प्रदर्शनी का अवलोकन किया गया।

ओरछा में रामराजा लोक और चित्रकूट में वनवासी रामलोक का निर्माण होगा

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में घोषणा की कि जिस तरह उज्जैन में महाकाल लोक का निर्माण किया गया है उसी तरह ओरछा में रामराजा लोक का निर्माण किया जायेगा। चित्रकूट में भगवान राम 13 साल वनवास में रहे हैं। चित्रकूट में वनवासी राम का लोक बनाया जायेगा। मुख्यमंत्री ने राम वनगमन पथ निर्माण की भी बात कही।  मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री गडकरी के परामर्श पर ओरछा में आधुनिक बस स्टैंड के निर्माण हेतु यथाशीघ्र भूमि उपलब्ध कराने की घोषणा की।

इस कार्यक्रम में केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने कहा कि देश-प्रदेश और बुन्देलखंड के लिये सौगात का दिन है। एक दिन में ही इतने राष्ट्रीय मार्ग परियोजनायें मिली हैं। इसके साथ ही जामनी-बेतवा नदी पर पुल बन जाने से लोगों की बरसों पुरानी मांग पूरी हुई है। उन्हें सुविधा मिलेगी।  

केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहा कि पहले बुंदेलखंड की चर्चा होती थी तो पलायन और भुखमरी की बात होती थी, लेकिन जितनी विरासत बुंदेलखंड में है उतनी देश के किसी हिस्से में नहीं है। शायद कोई छल हमारे साथ हुआ था जो अब समाप्त हो गया, काला अंधेरा छट गया, आज हम विकास के मार्ग पर हैं।

खजुराहो सांसद  व्ही.डी. शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सड़कों का नेटवर्क सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुँचा है, जिसका परिणाम है कि प्रदेश के लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधा मिलने के साथ ही प्रदेश के विकास को भी गति मिली है।
लोक निर्माण एवं निवाड़ी जिले के प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव ने कार्यक्रम में स्वागत भाषण दिया। उन्होंने बताया कि वर्ष 2014 के बाद प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग की सड़कें का तेजी से बनी हैं। उन्होंने सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गड़करी से सेतुबन्ध योजना के अंतर्गत 23 में से शेष रहे आठ फ्लाईओवर स्वीकृत करने की मांग रखी।

Source : Agency