नई दिल्ली
आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर उम्मीदवारों के नामों पर मंथन कर सूची को अंतिम रूप देने के लिए गुरुवार को राजधानी स्थित बीजेपी मुख्यालय में पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हुई। जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी शामिल हुए। बैठक के बाद बीजेपी की तरफ सीटों के बंटवारे को लेकर कोई अधिकारिक जानकारी नहीं दी गई। मगर असम में बीजेपी के 92, असम गण परिषद के 26 और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल के 8 सीटों पर चुनाव लड़ने की अटकलें तेज हो गई हैं। पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में 27 मार्च से मतदान होने हैं। बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा सहित पार्टी की केन्द्रीय चुनाव समिति के अन्य सदस्य मौजूद रहें। पार्टी सूत्रों ने कहा कि सीईसी उन दो राज्यों में अधिकांश सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम स्पष्ट कर सकती है जहां 27 मार्च और 1 अप्रैल को पहले दो चरणों में चुनाव होंगे। भाजपा सीईसी शुक्रवार को फिर से बैठक कर सकती है। केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में मतदान 6 अप्रैल को एक ही चरण में होगा। आगामी असम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा और उसके सहयोगी दलों, असम गण परिषद (अगप) और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर समझौते को बुधवार को अंतिम रूप दे दिया गया था। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आवास पर बुधवार को इस सिलसिले में एक अहम बैठक में भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत दास, अगप के अध्यक्ष व राज्य सरकार के मंत्री अतुल बोरा, यूपीपीएल के प्रमुख प्रमोद बोरो, भाजपा नेता व मंत्री हेमंत विश्व सरमा भी मौजूद थे।

असम में तीन चरणों में होगा मतदान
असम में 27 मार्च से छह अप्रैल के बीच तीन चरणों में मतदान संपन्न होगा। पहले चरण के तहत राज्य की 47 विधानसभा सीटों पर 27 मार्च को, दूसरे चरण के तहत 39 विधानसभा सीटों पर एक अप्रैल और तीसरे व अंतिम चरण के तहत 40 विधानसभा सीटों पर छह अप्रैल को मतदान संपन्न होगा। नामांकन की आखिरी तारीख नौ मार्च है।
 

Source : Agency