ग्वालियर                                   
हिंदू महासभा 14 मार्च को सड़क मार्ग से दिल्ली के लिए गोडसे यात्रा निकालेगी। एक तरफ मध्य प्रदेश कांग्रेस में बाबूलाल चौरसिया के शामिल होने के बाद बवाल मचा हुआ है तो वहीं दूसरी तरफ हिंदू महासभा भी गोडसे यात्रा निकलने पर अड़ी हुई है। हिंदू महासभा का कहना है कि वे दिल्ली में कांग्रेस कार्यालय पहुंचकर सोनिया गांधी से मुलाकात कर कांग्रेस का नाम बदलकर गोडसेवादी कांग्रेस करने की मांग करेंगे। अभी तक यात्रा के लिए अनुमति नहीं ली गई है। साथ ही हिंदू महासभा ने साफ कहा है कि यात्रा की अनुमति नहीं मिली तो भी 14 मार्च को गोडसे यात्रा निकालेंगे।

हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयवीर भारद्वाज ने बताया कि बैठक में निर्णय हो गया है कि 14 मार्च को गोडसे यात्रा निकाली जाएगी। अभी सड़क मार्ग से ही यात्रा निकालने का फैसला लिया है। उन्होंने ने बताया कि यह यात्रा ग्वालियर के कार्यालय दौलतगंज से शुरू होगी और सड़क मार्ग से होते हुए दिल्ली में हिंदू महासभा भवन मंदिर मार्ग पर राष्ट्रीय नेताओं के सानिध्य में पूरी होगी। यात्रा के माध्यम से नाथूराम गोडसे के बारे में लोगों को बताया जाएगा। 

आपको बता दें कि हाल ही में हिंदू महासभा के नेता बाबूलाल चौरसिया को कांग्रेस में शामिल करने पर हिंदू महासभा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ को पत्र लिखा था। जिसमें कहा गया था कि वह कांग्रेस का नाम बदलकर गोडसे वादी कांग्रेस रख लें। जिसका जवाब अभी तक नहीं मिला इसलिए हिंदू महासभा दिल्ली जाकर प्रदर्शन करेगी। हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयवीर भारद्वाज ने बताया कि, हम बुधवार को यात्रा के लिए जिला प्रशासन से अनुमति मांगेंगे। साथ ही हम गोडसे यात्रा निकालने का संकल्प ले चुके हैं और किसी के रोकने से नहीं रुकेंगे।

Source : Agency