भोपाल

एमपी की पूर्व सीएम और बीजेपी की वरिष्ठ नेत्री उमा भारती मुखर होकर अपनी बात रखती हैं। उमा भारती टो टूक शब्दों में समय-समय पर पार्टी को भी नसीहत देती रहती हैं। एमपी में शिवराज सरकार शराब दुकानों की संख्या बढ़ाने की तैयारी कर रही थी। इस बीच उमा भारती ने अपनी मांग से शिवराज सिंह चौहान की मुसीबत बढ़ा दी है।


दरअसल, एमपी के मुरैना में हाल ही में जहरीली शराब से 24 लोगों की मौत हुई है। अवैध शराब के कारोबार को रोकने के लिए सरकार शराब की दुकानों की संख्या बढ़ाने पर विचार कर रही है। इससे उलट पूर्व सीएम उमा भारती ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से बीजेपी शासित राज्यों में बिहार मॉडल की मांग की है। यानी कि उन्होंने सभी राज्यों में शराबबंदी की मांग की है।

Source : Agency