जबलपुर
कोविड-19 ड्यूटी में लगे डॉक्टर अपनी जान पर खेल कर मरीजों की जान बचा रहे हैं। वहीं, अधिकारियों की लापरवाही की वजह से उन्हें 3 महीने से वेतन नहीं मिला है। इसके बाद जबलपुर जिला चिकित्सालय के डॉक्टरों ने मोर्चा खोल दिया है। डॉक्टरों ने मंगलवार को इसे लेकर प्रदर्शन किया है।


दरअसल, कोरोना संक्रमण में अपनी सेवाएं देने वाले जिला चिकित्सालय के डाक्टरों को पिछले 3 माह से वेतन नहीं मिला है। इसे लेकर डॉक्टरों ने सीएमएचओ से मुलाकात की है। डॉक्टरों ने बताया कि कोविड-19 ड्यूटी ग्रामीण सेवा बांड के तहत हम लोगों ने पदभार ग्रहण किया था। अक्टूबर, नवंबर और दिसंबर माह का वेतन अभी तक नहीं दिया गया है। वेतन न मिलने से हमको आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

सीएमएचओ से जब इस विषय पर बात की तो उनका कहना था कि आवंटन न होने के कारण डॉक्टरों का वेतन नहीं हो पा रहा है। आवंटन प्राप्त होते ही डॉक्टरों का भुगतान कर दिया जाएगा। डॉक्टरों ने कहा कि कोरोना में हम लोग लगातार ड्यूटी कर रहे हैं। लेकिन वेतन के नाम पर सीएमएचओ फंड का रोना रोते रहते हैं। साथ ही कहते हैं कि काम नहीं करेंगे तो कार्रवाई होगी। पैसे नहीं मिलने की वजह से हमें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Source : Agency