इंदौर
इंदौर में गुंडे, ड्रग माफिया, भूमाफियाओं के बाद अब अनैतिक कार्य संचालित करने वाले होटलों पर निगम का बुलडोजर चलना शुरू हो गया है। महालक्ष्मी नगर में निमार्णाधीन होटल को जिला प्रशासन ने आज तोड़ दिया। बाहरी तौर पर तो यह भवन निमार्णाधीन नजर आ रहा है लेकिन प्रशासन को यहां होटल संचालित होने की सूचना मिली थी।

होटल में अनैतिक कार्य हो रहे थे। प्रशासन भवन मालिक पर भी कार्रवाई की तैयारी कर रहा है। इसी क्रम में निगम और जिला प्रशासन ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए शहर के महालक्ष्मी नगर में बनी स्वीटहार्ट होटल पर रिमूवल की कार्यवाही की है। यहां होटल मालिक मोहम्मद अली उस्मानी की है। उस पर भी प्रशासन कार्यवाही की तैयारी कर रहा है। प्रशासन को सूचना मिली थी कि होटल में अनैतिक गतिविधियां संचालित की जा रहा है। इस पर रविवार सुबह निगम द्वारा यह कार्यवाही की गई। निगम उपायुक्त देवेन्द्र सिंह ने बताया कि गोपाल कुमावत द्वारा लसुडिया थाना क्षेत्र में कमर्शियल कॉम्प्लेक्स बनाया जा रहा था। नियम के अनुसार बिल्डिंग के आसपास एमओएस निगम के नियम के अनुसार नहीं छोड़े जाने के कारण यह कार्यवाही की गई है।

कार्यवाही में बिल्डिंग मालिक द्वारा 1500 स्केवयर फीट प्लाट पर गाउंड फ्लोर के साथ ही दो मंजिला भवन की रेसिडेंशियल परमिशन प्राप्त कर कमर्शियल उपयोग हेतु गाउंड फ्लोर के साथ तीन मंजिल का निर्माण किया जा रहा था।

Source : Agency