अनूपपुर
अनूपपुर के जैतहरी थाना अंतर्गत ग्राम धनगवां बीती रात डेढ़ बजे के ह्रदयविदारक घटना हुई है जिसमें चार लोगों पर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया गया। आग में 3 लोगों की मौके पर मौत गई, जबकि एक बच्चा बुरी तरह झुलस गया। इधर, जघन्य हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपी दीपक विश्वकर्मा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सनसनीखेज वारदात में आरोपी के भाई ओमकार विश्वकर्मा उम्र 35 साल उसकी बड़ी भाभी कस्तूरिया बाई और 17 साल की भतीजी निधि की मौत हो गई है।

भतीजा उम्र लगभग 5 साल भी आग में बुरी तरह झुलस गया, जिसे प्राथमिक उपचार के बाद शहडोल रेफर किया गया है। 4 लोगों की मौत की सूचना मिलते ही एसडीओपी सहित थाना प्रभारी बल के साथ मौके पर पहुंचे। पंचनामा कार्रवाई के बाद आरोपी सहित सभी 4 लाश को पीएम के लिए भेजते हुए मामले की विस्तृत पड़ताल शुरू कर दी गई है। प्राथमिक पूछताछ में पुलिस को अन्य परिजनों ने बताया कि आरोपी मृतक दीपक विश्वकर्मा का अपने भाईयों से विवाद चल रहा था। प्रापर्टी विवाद को लेकर ही आरोपी ने सो रहे परिवार पर पेट्रोल डालकर आग दी, जिसमें 3 लोगों की मौके पर मौत हो गई। 

Source : Agency