नई दिल्ली  
आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने शुक्रवार को उच्च सदन में कहा कि उन पर देशद्रोह का मुकदमा दायर कर दिया गया है। आपको बता दें कि संजय सिंह के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 'देशद्रोह' का मामला बनाये जाने का मुद्दा शुक्रवार को राज्यसभा में उठाने की कोशिश की हालाकि सभापति ने उन्हें इसकी अनुमति नहीं दी और कहा कि वह उन्हें इस बारे में अलग से लिखकर जानकारी दें। 

सिंह ने उच्च सदन में कहा, ''...हो सकता है कि चार दिन बाद मैं जेल में दिखूं। देशद्रोह का मुकदमा दायर कर दिया गया है। सिंह ने कहा, ''क्या इस सदन में बैठने वाला सदस्य देशद्रोही है, मैं इस सरकार से पूछना चाहता हूं? उन्होंने कहा, ''अगर हम देशद्रोही हैं तो जेल में डाल दिया जाए। सिंह ने शून्यकाल शुरू होने पर यह मामला उठाने की कोशिश की हालाकि सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि यह इस मुद्दे को उठाने का सही तरीका नहीं है और सदस्य इस बारे में उन्हें अलग से लिखकर जानकारी दे सकते हैं। 

आप सदस्य ने सभापति की अपील को नजरंदाज करते हुए अपनी बात रखनी चाही लेकिन सभापति ने कहा कि सदस्य की बातें रिकार्ड पर नहीं जाएंगी। बाद में संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने आज यह मामला राज्यसभा में उठाया और सभापति ने इस मामले में कार्यवाही का भरोसा दिया है। उन्होंने कहा कि कई दलों के सदस्यों ने उनका साथ दिया। 

सिंह ने ट्वीट किया, योगी के कोरोना घोटाले का मुद्दा राज्य सभा में उठाया तो योगी ने मेरे ऊपर “देशद्रोह” लगा दिया संसद में मैंने सभापति जी से कहा “अगर मैं देशद्रोही हूं तो मुझे जेल भेजिये”। कांग्रेस, सपा , शिवसेना , राजद, तृणमूल और द्रमुक ने मेरा साथ दिया सभापति जी ने इस प्रकरण में सदन को कार्यवाही का भरोसा दिया।

Source : Agency