आर्टरीज ब्लॉकेज को रोकते हैं ये 5 सुपर फूड्सहर्ट ब्लॉकेट या आर्टरी ब्लॉकेज एक ऐसी समस्या बन चुकी है जो अडल्ट लोगों में तेजी से बढ़ रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह है गलत खान-पान और बिगड़ा हुआ लाइफस्टाइल। आइए यहां जानते हैं कि किन सुपर फूड्स को अपनी डायट में शामिल करके हम दिल को दुरुस्त रख सकते हैं। ताकि रक्त का प्रवाह सामान्य बना रहे...
रेड वाइन का सीमित उपयोग
 -आपको जानकर हैरानी हो सकती है लेकिन अगर आप सीमित मात्रा में रेड वाइन का उपयोग करते हैं तो इस बात की संभावना काफी कम हो जाती है कि आपको हार्ट क्लॉटिंग की समस्या का सामना करना पड़े।

-क्योंकि रेड वाइन आपके दिल की धमनियों को नर्म और लचीला बनाए रखने का काम करती है। इससे बॉडी में ब्लड का फ्लो सामान्य गति से होता रहता है और क्लॉटिंग यानी थक्का जमने की संभावना लगभग खत्म हो जाती है।
 

चॉकलेट्स का सीमित उपयोग
 -अगर आप सीमित मात्रा में चॉकलेट का उपयोग करते हैं तो दिल और नसों से जुड़ी कई तरह की समस्याओं से बच सकते हैं। क्योंकि डार्क चॉकलेट हमारे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में सहायता करती है।

-चॉकलेट खाने से ब्लड वेसल्स फ्लैग्जिबल होती हैं और ब्लड का फ्लो नॉर्मल रहता है। हाइपरटेंशन में राहत मिलने से मूड अच्छा रहता है और आप खुद को अधिक ऊर्जावान अनुभव करते हैं।

दालें और फलियां
 -अगर आप दालों और फलियों का सेवन अपनी डेली डायट में करते हैं तो आपको हार्ट डिजीज होने, आर्टरीज में ब्लॉकेज होने और ब्लड क्लॉटिंग होने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

-क्योंकि दालें और हरी फलियां चाहे स्प्राउट्स के रूप में खाई जाएं या सब्जी के रूप में, ये शरीर में प्रोटीन की जरूरत को पूरा करती हैं। इनसे मैग्नीशियम और पोटैशियम भी जरूरी मात्रा में प्राप्त होता है। इसलिए ब्लड प्रेशर और कॉलेस्ट्रॉल सामान्य रहता है। इससे ब्लॉकेज का खतरा कम होता है।

सर्डाइन है लाभकारी
 -ओमेगा 3 फैटी एसिड हमारे हेल्दी हर्ट और बॉडी के लिए बहुत जरूरी है। यदि आप सर्डाइन्स (एक तरह की मछली) का उपयोग अपनी डायट में करते हैं तो इससे आपके शरीर को जरूरी मात्रा में गुड फैटी एसिड्स की प्राप्ति होती है।

-ओमेगा 3 फैटी एसिड्स के उपयोग से आपके दिल की धमनियों पर सूजन नहीं आती और रक्त के प्रवाह में किसी तरह की दिक्कत नहीं होती है। इसलिए आर्टरीज को हेल्दी रखने के लिए यह एक अच्छा विकल्प है।

लहसुन वेसल्स को रखता है स्वस्थ
 -लहसुन का उपयोग आप साग-सब्जी में करिए या चटनी और अचार के रूप में। इसका नियमित और सीमित उपयोग आपके दिल को मजबूत रखने का काम करता है। क्योंकि लहसुन हमारे हृदय की धमनियों को साफ और स्वस्थ रखने का काम करता है।

-लहसुन हमारे नर्व्स में किसी भी तरह के फैट और प्रोटीन को जमा नहीं होने देता है। यह शरीर में एंजाइम्स का स्तर सामान्य बनाए रखने में सहायता करता है। साथ ही एक्सट्रा फैट को धमनियों में जमा होने से रोकता है।

Source : Agency