जबलपुर। शराब ठेकेदारों और सरकार के बीच विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। शराब ठेकेदारों की याचिकाओं पर बुधवार को हाईकोट में सुनवाई हुई। जिस पर शराब ठेकेदारों द्वारा हाल ही में सरकार द्वारा किए गए नीतिगत संशोधन को चुनौती दी गई है। सुनवाई में सरकार ने हाईकोर्ट में आश्वासन दिया कि अगली सुनवाई तक ठेकेदारों के खिलाफ सरकार की ओर से कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जाएगी। शराब ठेकेदारों ने याचिका में कहा है कि सरकार कोरोना संक्रमण काल के दौरान शराब दुकानों को खोलने की अनुमति तो दे रही है लेकिन नियम इतने ज्यादा बना दिए हैं कि शराब ठेकेदारों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। शराब ठेकेदार सरकार को निश्चित राजस्व देने की हालत में भी नहीं है वही हाल ही में राज्य सरकार ने नीतिगत संशोधन करते हुए शराब ठेकेदारों पर दबाव बनाने की कोशिश की है।

Source : Agency