चेन्नै
द्रविड़ मुनेत्र कझगम पार्टी (डीएमके) के राज्यसभा सांसद आरएस भारती को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। उन्हें फरवरी महीने में दलित समुदाय के लोगों के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में चेन्नै से गिरफ्तार किया गया। भारती के खिलाफ 1989 के अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

भारती ने अपनी गिरफ्तारी को सत्ताधारी एआईएडीएमके की साजिश बताया है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार शाम को मैंने मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में शिकायत दर्ज कराई थी, इसीलिए अचानक उनकी गिरफ्तारी की गई है। उन्होंने यह भी कहा कि एक समूह द्वारा सोशल मीडिया पर उन्हें बदनाम करने के लिए कैंपेन चलाया जा रहा है। इसमें उनके एक भाषण का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है।


फरवरी में दिया था भाषण
भारती उसी भाषण की बात कर रहे थे, जिसे लेकर उनकी गिरफ्तारी की गई है। मामला फरवरी 2020 का है। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो क्लिप में भारती ने दलित जजों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने राज्य में मीडिया पर भी डीएमके के खिलाफ अभियान चलाने का आरोप लगाते हुए अपनी नाराजगी जाहिर की थी। भारती ने मीडिया की तुलना रेड लाइट एरिया से की थी, जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था।

Source : Agency