इंदौर
 लॉकडाउन के बाद से ही नमकीन नहीं मिलने से परेशान इंदौर वासियों को जिला प्रशासन ने मंगलवार को राहत दी। कलेक्टर ने आदेश जारी कर शहर के 20 प्रतिष्ठानों को नमकीन सप्लाई की अनुमति दी है। ये व्यवसायी अपने प्रतिष्ठान खोलकर बिक्री नहीं कर पाएंगे। ऑनलाइन आर्डर लेकर इन्हें निर्माण स्थल से ही नमकीन की घर-घर सप्लाई करनी होगी। निर्माण स्थानों पर सुरक्षित शारीरिक दूरी का भी ध्यान रखना होगा। उल्लेखनीय है कि निगम के घर-घर राशन सप्लाई व्यवस्था के तहत शहरवासियों ने पोहा और नमकीन सप्लाई की मांग की थी।

तब से ही इन दोनों वस्तुओं की सप्लाई की योजना बनाई जा रही थी। नईदुनिया ने लोगों की मांग का प्रमुखता से प्रकाशित भी किया था। अब शहरवासी से अलग-अलग प्रकार के नमकीन ऑनलाइन बुला सकेंगे। लॉकडाउन के पहले इंदौर में प्रतिदिन 100 टन नमकीन का उत्पादन होता था। इसमें से दस टन प्रतिदिन की खपत इंदौर के बाजार में ही हो जाती थी। लॉकडाउन के दौरान भी ऑनलाइन राशन सप्लाई करने वाली कंपनियों से नमकीन की मांग ज्यादा होती थी।

अंडे और चिकन बनाने की भी मिली अनुमति

इसी तरह ऑनलाइन शॉपिंग एजेंसी के माध्यम से घर-घर अंडा व चिकन पहुंचने की अनुमति भी प्रदान की गई है। इसके लिए नेटवर्क स्थापित करना जरूरी है। यह अनुमति पाच पोल्ट्री फार्म व तीन एजेंसी को दी गई है।

Source : Agency