इंदौर
मध्‍य प्रदेश के इंदौर शहर के कोरोना वायरस (Coronavirus) से सबसे ज्यादा संक्रमित रानीपुरा के लोगों की शर्मनाक करतूत सामने आई है. यहां पहुंची मेडिकल टीम के डॉक्टरों पर रहवासियों ने ऊपर से थूककर संक्रमित करने का घृणित प्रयास किया. इसके बाद मेडिकल स्टाफ ने पुलिस (Police)की मदद मांगी है. आपको बता दें कि इंदौर शहर के इसी इलाके में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित और संदिग्ध मरीज हैं, लेकिन ये लोग जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं.

इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 24 हो गई है, जो कि प्रदेश में सबसे अधिक है. इसके अलावा इंदौर और उज्जैन के एक-एक मरीज की मौत हो चुकी है. इंदौर में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद रानीपुरा,निपानिया,खातीवाला टैंक,चंदननगर और खजराना के तीन किलोमीटर के क्षेत्रों को पुलिस-प्रशासन ने पूरी तरह सील कर दिया है. इन इलाकों को संक्रमण मुक्त करने के लिए प्रशासन सख्ती से काम कर रहा है. यहां रहने वालों की स्कैनिंग के साथ ही दवाइयों का छिड़काव लगातार जारी है. रविवार को स्‍कैनिंग के लिए रानीपुर इलाके में पहुंची टीम के साथ रहवासियों ने बदसलूकी की. टीम के ऊपर ना सिर्फ थूकने का प्रयास किया गया बल्कि समझाने पर वहां के लोग गाली-गलौज उतर आए.

इंदौर में कोरोना संक्रमित 55 साल की महिला तेजी से ठीक हो रही है. पल्स-बीपी सामान्य है और बुखार बिल्कुल नहीं है. हालांकि कोरोना संक्रमण की दोबारा जांच की जाएगी और एक-दो दिन में उसे डिस्चार्ज किया जा सकता है. खातीवाला टैंक निवासी ये महिला 4 दिन पहले गंभीर स्थिति में अरविंदो अस्पताल में भर्ती हुई थी. उसे हर मिनट 8 लीटर ऑक्सीजन देनी पड़ रही थी,लेकिन अब यह एक लीटर प्रति मिनट पर आ गई है. इंदौर में इस समय 23 पॉजिटिव मरीजों का इलाज ​विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है.

Source : Agency