भोपाल
मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में आईएएस एसोसिएशन के बाद आईपीएस और स्टेट पुलिस सर्विस एसोसिएशन ने कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने के लिए आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. दोनों ही एसोसिएशन के सभी अधिकारी अपनी 1 दिन की सैलरी राहत कोष में देंगे.

यह राशि कोरोना से पीड़ित व्यक्तियों की सहायता के लिए दी जा रही है. आईपीएस एसोसिएशन प्रधानमंत्री राहत कोष में अपनी एक दिन की सैलरी देगा तो वही स्टेट पुलिस सर्विस के तमाम अधिकारी मुख्यमंत्री राहत कोष में अपने एक दिन की सैलरी देंगे.

मध्य प्रदेश आईपीएस एसोसिएशन की सचिव सिमाला प्रसाद ने बताया कि एसोसिएशन ने फैसला लिया है कि सभी आईपीएस अधिकारी अपने 1 दिन का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में देंगे. राज्य पुलिस सेवा एसोशिएसन के अध्यक्ष शशिकांत शुक्ला ने बताया कि COVID-19 से  पीड़ित व्यक्तियों की सहायता के लिए सभी अधिकारी एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देंगे.

आईपीएस और एसपीएस एसोसिएशन से पहले आईएएस एसोसिएशन भी इसी तरीके का कदम उठा चुका है. आईएएस एसोसिएशन के आह्वान पर सभी अधिकारियों ने कोराना संक्रमण से पीड़ित व्यक्तियों की सहायता के लिए अपना 1 दिन का वेतन दिया था. हालांकि आईएएस, आईपीएस और  एसपीएस के अलावा भी हर तबके के लोग और संगठन अपने-अपने स्तर पर इस त्रासदी में आम जनता से लेकर कोराना संक्रमण से पीड़ित व्यक्तियों की तन, मन और धन से मदद कर रहा है.

Source : Agency