सिडनी
पूनम यादव की शानदार बोलिंग की मदद से भारत ने टी20 वर्ल्ड कप में जीत के साथ शुरुआत की है। उसने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 133 रनों का लक्ष्य दिया था लेकिन यादव की फिरकी के आगे कंगारू टीम धराशायी हो गई। वह 19.4 ओवर में 115 रन पर ऑल आउट हो गई। उसकी ओर से एलिसा हिली ने सबसे ज्यादा 51 रन बनाए। यादव ने चार ओवर में 19 रन देकर चार विकेट लिए।

चार बार की चैंपियन टीम के लिए 133 कोई बड़ा स्कोर नहीं था। ऐलिसा हिली ने टीम को अच्छी शुरुआत दी। हालांकि बेथ मूनी सिर्फ 6 रन बनाकर शिखा पांडे का शिकार बनीं। उस समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 32 रन था। कप्तान मेग लैनिंग्स 5 रन बनाकर आउट हुईं। उन्हें राजेश्वरी गायकवाड़ की गेंद पर विकेटकीपर भाटिया के हाथों स्टंप हुईं।

ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका ऐलिसा के रूप में लगा। शिखा पांडे ने उन्हें अपनी ही गेंद पर कैच कर लिया। हिली ने 35 गेंद पर 51 रन बनाए। अपनी पारी में उन्होंने छह चौके और एक छक्का लगाया।

पूनम हैटट्रिक से चूकीं
भारत की ओर से पूनम ने पहले रिशेल हैंस को भाटिया के हाथों स्टंप कराया। उनकी गुगली को वह पकड़ नहीं पाईं और गेंद उन्हें छकाते हुए विकेटकीपर के हाथों में गई। इसके बाद अगली ही गेंद पर दिग्गज ऑलराउंडर ऐलिसा पैरी भी यादव की गुगली पर बोल्ड हो गईं। हैटट्रिक बॉल पर यादव ने जेस जोनासन के बल्ले का किनारा लिया लेकिन भाटिया कैच नहीं लपक पाईं। हालांकि उन्होंने बाद में उनका विकेट लिया।

इससे पहले, भारतीय महिला टीम शुक्रवार को यहां ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 विश्व कप के शुरुआती मुकाबले में शानदार शुरुआत के बावजूद चार विकेट पर 132 रन का स्कोर ही बना सकी। सोलह वर्षीय शेफाली वर्मा ने भारत को चार ओवर तक बिना विकेट गंवाये 41 रन तक पहुंचा दिया था। उन्होंने 15 गेंद में 29 रन की पारी खेली जिसमें पांच चौके और एक छक्का जड़ा था। लेकिन उनके आउट होने के बाद पारी की लय बिगड़ गई और अन्य बल्लेबाजों ने निराश किया।

दीप्ति शर्मा ने 46 गेंद में नाबाद 49 रन की संयमित पारी खेली लेकिन अंत में भारत को जिस आक्रामकता की जरूरत थी, उसकी कमी दिखायी दी। बल्लेबाजी का न्यौता दिये जाने के बाद टीम शेफाली की पारी की बदौलत चार ओवर तक अच्छी स्थिति में थी। हालांकि बायें हाथ की स्पिनर जेस जोनासेन (24 रन देकर दो विकेट) ने तेजी से दो विकेट झटक लिये जिसमें स्मृति मंधाना (11 गेंद में 10 रन) और हरमनप्रीत कौर (पांच गेंद में दो रन) का विकेट शामिल रहा। इससे भारत का स्कोर तीन विकेट पर 47 रन हो गया।

दीप्ति ने फिर जेमिमा रोड्रिग्स (33 गेंद में 26 रन) के साथ 53 रन की साझेदारी निभाकर 16वें ओवर तक भारत को 100 रन तक पहुंचाया। ऑस्ट्रेलिया के लिये एलिसे पेरी (15 रन देकर एक विकेट) और डेलिसा किमिन्स (24 रन देकर एक विकेट) ने विकेट चटकाये। इससे पहले भारत के लिये सलामी बल्लेबाज मंधाना ने दूसरे ओवर में पेरी पर दो चौके जमाकर अच्छी शुरूआत करायी। तीसरे ओवर में शेफाली ने भी उनकी देखादेखी मोली स्ट्रानो पर कवर पर चौका और फिर लांग ऑन पर छक्का जड़ा।

शेफाली ने फिर तेज गेंदबाज मेगान स्कट पर चार चौके जमाए जिससे इस ओवर में 16 रन जुटे। फिर जोनासेन गेंदबाजी के लिये उतरीं, जिन्होंने मंधाना का विकेट लेकर पहला झटका दिया। पेरी ने फिर शेफाली को अनाबेल सदरलैंड के हाथों कैच कराकर आउट किया जिससे भारत का स्कोर 5.3 ओवर में दो विकेट पर 43 रन हो गया। कप्तान हरमनप्रीत भी जोनासेन की शिकार बनीं। जेमिमा एक बार डीआरएस में पगबाधा के फैसले से बचीं और उन्होंने दीप्ति के साथ टीम का स्कोर 100 रन तक पहुंचाया।

Source : Agency