लखनऊ

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले 13 लोगों से 21 लाख 76 हजार रूपये वसूलेगी. आरोपियों को 16 मार्च तक धनराशि जमा करनी होगी. लखनऊ मे 19 दिसंबर को सीएए के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन हुआ था. इस दौरान सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचा गया था.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदर्शनकारियों से धनराशि वसूलने की बात कही थी. जिला प्रशासन ने सीएए प्रदर्शन के दौरान हुए नुकसान की रिकवरी रिपोर्ट अब जारी की. प्रशासन ने 7 लोगों को बरी भी किया. पुलिस 7 लोगों के खिलाफ कोई सबूत नहीं दिखा सकी.

संभल में 11 लोगों को नोटिस

CAA और एनआरसी के विरोध के दौरान हुए हिंसा को देखते हुए संभल प्रशासन ने सीआरपीसी की धारा 111 के तहत 11 लोगों को नोटिस जारी किया है. इन सभी लोगों को 50 लाख रुपये के सुरक्षा बांड भरने का नोटिस जारी किए गया कि आगे से वो कभी हिंसा में शामिल नहीं होंगे. संभल के मजिस्ट्रेट ने अपने आदेश में दो लोगों को सुरक्षा गारंटी भरने को भी कहा है. 19 और 20 दिसंबर को हुई हिंसा में दो लोगों की मौत हुई थी और कई घायल हुए थे.

नोटिस में साफ तौर पर लिखा है कि जिन लोगों ने हिंसा में हिस्सा लिया था अगर दूसरी बार वे हिंसा में संलिप्त पाए गए तो उनसे 50 लाख का जुर्माना वसूला जाएगा. मजिस्ट्रेट ने अपने नोटिस में दो लोगों को 50 लाख कि सुरक्षा गारंटी भरने को भी कहा है.

 

Source : Agency